Home > Uncategorized > Shams Bhopali> Tum

Shams Bhopali> Tum

tumEk Ghazal.

Mene Dekha Abhi Abhi Tum They
Wehm Tha Ya Ki Waaqayi Tum They

Mere Lab Par Sada Hansi Tum They
Mere Lafzon Ki Sheerni Tum They

Paas Reh Kar Hi Door Bhi Tum They
Dost They Ya Ik Ajnabi Tum They

Mujh Pe Taari Thi Bekhudi Behad
Mere Nazdeek Abhi Abhi Tum They

Tum Se Raunaq Thi Aashiyaane Ki
Khaana-Veera’n Ki Raushni Tum They

Sub’h O Shaam Ik Duaa Mein Thi Aksar
Rab Se Meri Woh Aajizi Tum They

Main Bohot Khushgawaar Rehta Tha
Meri Khaslat Mein Barhami Tum They

Main Samajhta Tha Ik Fasaana Hai
Phir Yeh Jaana Ki Zindagi Tum They

Tum Meri Sub’h Ka Ujaala They
Meri Raato’n Ki Chaandni Tum They

Jo Nahi Aa Saki Mere Lab Par
Daastaa’n Har Woh Ankahi Tum They

Tum Saraapah They Paikar E Gulshan
Gulsitaano’n Ki Taazgi Tum They

Tum Se Aage Na Badh Saka Paagal
Shams Ki Shair O Shaairi Tum They

Shams Bhopali
———————————————————–
एक ग़ज़ल

मैंने देखा अभी अभी तमु थे
वह्म था या कि वाक़ई तुम थे

मेरे लब पर सदा हंसी तुम थे
मेरे लफ्ज़ों की शीरनी तुम थे

पास रह कर ही दूर भी तुम थे
दोस्त थे या इक अजनबी तुम थे

मुझ पे तारी थी बेख़ुदी बेहद
मेरे नज़दीक अभी अभी तुम थे

तुम से रौनक़ थी आशियाने की
ख़ाना वीराँ की रौशनी तुम थे

सुब्हो शाम इक दुआ में थी अक्सर
रब से मेरी वोह आजिज़ी तुम थे

मैं बहुत खुशगवार रहता था
मेरी ख़सलत में बरहमी तुम थे

मैं समझता था इक फ़साना है
फिर यह जाना कि जि़न्दगी तुम थे

तुम मेरी सुब्ह का उजाला थे
मेरी रातों की चांदनी तुम थे

जो नहीं आ सकी मेरे लब पर
दास्ताँ हर वोह अनकही तुम थे

तुम सरापा थे पैकरे गुलशन
गुलसितानों की ताज़गी तुम थे

तुम से आगे न बढ़ सका पागल
शम्स की शअरो शाइरी तुम थे

शम्स भोपाली

Advertisements
Categories: Uncategorized
  1. No comments yet.
  1. No trackbacks yet.

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out / Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out / Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out / Change )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out / Change )

Connecting to %s

%d bloggers like this: